Monday, 13 June 2011

suraj ke saath-saath...



आज...
मैंने सूरज को उगते देखा...
पके हुए आमो को देखा...
चिरिया देखी....और.....
खुद को देखा...........






4 comments:

रावेंद्रकुमार रवि said...

सुंदरता को परखने की तुम्हारी यह क्षमता सदैव बढ़ती रहे!

डॉ. नागेश पांडेय "संजय" said...

बहुत ही रोचक और बालोपयोगी प्रस्तुति के लिए मेरी बधाई .

आपका हार्दिक स्वागत

चैतन्य शर्मा said...

कितने प्यारे फोटो...... पके आम देखकर मज़ा आया मुझे भी.....

Kashvi Kaneri said...

बहुत प्यारे प्यारे फोटो..सुन्दर....्कुहू की दुनिया में स्वागत...