Tuesday, 22 June 2010

meri baat

father's day के  अवसर  पर  मैंने  जो  अपने  पापा  के  लिए  कार्ड  बनाया  था  , वो  आप  सब  को  पसंद  आया  इसके  लिए   आप  सबो  को  धन्यवाद . मेरे  पापा  को  भी  वो  कार्ड  बहुत  अच्छा  लगा . DAINIK HINDUSTAN की  एक  आंटी  ने  मुझे  जब  पूछा  की   मैंने  अपने  पापा  के  लिए  क्या  किया  तो  मैंने  उन्हें  कार्ड  के  बारे  मे  बताया   कि  मैं  अपने  पापा  के  लिए  एक  स्पेशल  कार्ड  बनाने  वाली  हू ...क्या बनाउंगी  ये  उन्हें  भी  नहीं  बताया  था ..क्यूंकि  यह   तो  पापा  के  लिए  surprise   था ...लेकिन  रश्मि  पाण्डेय  आंटी  ने   मेरी  बात  अख़बार  मे छाप कर  मुझे ही  surprise दे दिया ....thanks आंटी....

2 comments:

Akshita (Pakhi) said...

Achhe kam ki charcha har jagah hoti hai...Shandar..Congts.

____________________

'पाखी की दुनिया' में 'पाखी का लैपटॉप' !

nidhu said...

thanks to you dear.keep it up.waise mere liye kab bana rahi ho card?